डीपीएस डिग्री कॉलेज चरनगहिया तुलसीपुर बीए तृतीय 25 छात्राओं ने छोड़ी परीक्षा।

0
6

अनिल शर्मा की रिपोर्ट द बीबीएम न्यूज़ के साथ

बलरामपुर तुलसीपुर:- डीपीएस डिग्री कॉलेज चरनगहिया तुलसीपुर बीए तृतीय वर्ष में अध्ययनरत लगभग 25 छात्राओं ने आज प्रयोगात्मक परीक्षा गृह विज्ञान स्थानीय दीप नारायण डिग्री कॉलेज तुलसीपुर में परीक्षा देने गई थी।।

The bbm news

छात्राएं समय पर केंद्र पर पहुंची तो वहां के अध्यापकों ने अभद्रता करते हुए परिसर से बाहर निकल जाने को कहने लगे।।

अचानक इस दुर्व्यवहार पर कारण जानना चाहा तो उनसे प्रति छात्रा के हिसाब से ₹1000 की वसूली की मांग की गई थी।।

धनराशि ना देने की स्थिति में प्रयोगात्मक परीक्षा न देने हेतु स्पष्ट मना कर दिया गया ।।

पीड़ित छात्राओं ने थाना तुलसीपुर पर जाकर न्याय की गुहार लगाई ।।

डीपीएस इंस्टिट्यूट अकाउंटेंट अजय श्रीवास्तव ने प्रभारी निरीक्षक तुलसीपुर को उक्त प्रकरण की लिखित सूचना दी तथा प्रेस को भी प्रति जारी की ।।

छात्राओं से मीडिया ने जब बात की तो उन्होंने कहा कि हम छात्राएं चूंकि डीपीएस में अध्ययनरत हैं इसलिए दीप नारायण डिग्री कॉलेज प्रबंधन ने इस वर्ष हमारे भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है ।साथ ही अभद्रता भी की है। 

 

समाचार लिखे जाने तक छात्राएं यथा कलावती आरती रीता सरिता लक्ष्मी राधा कौशल्या गुड़िया गीता पूजा प्रियंका मैनावती सुमन यादव आदि स्थानीय थाने पर प्रार्थना पत्र देकर सख्त कार्रवाई की मांग पर अड़ी रही ।।

तथा उप जिलाधिकारी तुलसीपुर को भी प्रार्थना पत्र देने की तैयारियां कर रही थी।।

उधर दीपनारायण डिग्री कालेज के प्राचार्य पवन शर्मा ने संवाददाताओं को बताया कि डीपीएस छात्राओ के साथ उनका स्टाफ हमारे कालेज के परीक्षा रूम में घुसने लगा जिस पर हमने ऐतराज जताया तो उन लोगो ने कहा कि प्रयोगात्मक परीक्षा तक हम रहेंगें और वीडियोग्राफी करने लगे तथा छात्राओं को भड़काकर वापस ले जाने लगे।।

मैंने और यूनिवर्सिटी से आये दोनों एग्जामनर ने छत्राओं से बारबार कहा कि आप लोग प्रेक्टिकल दीजिये पर वो नही मानी जबकि अभी भी सात आठ छात्राएं परीक्षा दे रही हैं।।

हमारे कालेज को दुर्भावनापूर्ण ढंग से बदनाम करने की साजिश रची गई है।झूठा आरोप लगाया है।।

थाने पर जाकर हमारे संस्थान को बदनाम किया जा रहा है.जबकि छात्राएं परीक्षा देना चाहती थीं पर स्टाफ के अनाधिकृत प्रवेश पर रोक को मुद्दा बनाकर उनके भविष्य के साथ स्वयं उनका प्रबंधन खिलवाड़ कर रहा है।।

 

उक्त संबंध में प्रभारी निरीक्षक वकील पांडे से संवाददाता ने संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि डीपीएस इंस्टिट्यूट के अकाउंटेंट अजय श्रीवास्तव द्वारा लिखित तहरीर पर प्राथमिकी सुसंगत धाराओं में दर्ज कर ली गई है जिसकी विवेचना की जा रही है।

। छात्राओं के दल ने उप जिला अधिकारी विनोद सिंह को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है।।

अनिल शर्मा की रिपोर्ट 

the BBM news के साथ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here