*मुखबिर रोजगार योजना*

0
3

 *मुखबिर रोजगार योजना* * Informal Employment Plan *

पुलिस अधीक्षक बलरामपुर श्री देव रंजन वर्मा के निर्देशन तथा अपर पुलिस अधीक्षक श्री अरविंद मिश्र के पर्यवेक्षण में जनपद में नए अपराधियों के विरुद्ध मुखबिर रोजगार योजना प्रारंभ किया गया है ।

the bbm news

इस योजना के संबंध में पुलिस अधीक्षक महोदय ने बताया कि पुलिस के समक्ष यह समस्या रहती है कि हमारे पास उन अपराधियों का लेखा-जोखा तो रहता है जो जेल गए हैं या जिनका रिकॉर्ड हमारे पास मौजूद है लेकिन ऐसा पाया गया है कि जो लूट, छिनैती, अपहरण आदि हो रही है उसमें नए उम्र के लड़के शामिल होते हैं जिनका कोई अपराधिक इतिहास नहीं है या जो अभी पुलिस के रिकॉर्ड में नहीं है । ऐसे अपराधियों पर नकेल कसने तथा उनके बारे में जानकारी एकत्र करने के लिए यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि हमारा इंटेलिजेंस मजबूत हो ।

वे अपराधी जो चोरी की गाड़ियों, अवैध तमंचे, अवैध पिस्टल आदि लेकर घूमते हैं इनके विषय में जानकारी जनता के बीच से ही मिल सकती है, लेकिन समस्या यह आती है कि आम जनमानस सोचता है कि हम जानकारी किसको दें और यदि जानकारी दे रहे हैं तो क्या हम सुरक्षित हैं या हमें इससे क्या लाभ है ।

इसी के दृष्टिगत मुखबिर रोजगार योजना प्रारंभ की गई है ।

इस योजना में कोई भी पब्लिक का व्यक्ति चोरी के वाहन, पिस्टल या अवैध तमंचा के बारे में पुलिस को सूचना देता है तो पुलिस उस पर कार्यवाही करती है यदि उनकी सूचना सही होती है तो इसके एवज मे उन्हें इनाम दिया जाता है जो सरकार की तरफ से *सीक्रेट सर्विस फंड* के रूप में आता है ।

जिस में चोरी की मोटरसाइकिल/अवैध कट्ठा के बारे में बताने वाले को रु0-1000 तथा अवैध पिस्टल पकड़वाने पर रु0-5000 रुपए इनाम दिया जाएगा ।

इस योजना में मुखबिर की गोपनीयता का ध्यान रखा जाएगा इस योजना में सूचना केवल पुलिस अधीक्षक बलरामपुर के सीयूजी नंबर 9454400256 पर ही देनी है ।

इस योजना के शुरू होने के बाद काफी अच्छे परिणाम आने लगे हैं ।

इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि जनता के बीच से सूचनाएं बिना किसी डर के सीधा पुलिस तक पहुंच सकेगी और सूचना के आधार पर पुलिस कार्यवाही करेगी तथा उसके एवज में सूचना देने वाले को उनके पैसे मिल जाएंगे ।

*इस अभियान में सूचना देने वाले की गोपनीयता का पूरी तरह से ध्यान रखा जाता है सूचना देने पर सूचना देने वाले का नाम और पता नहीं पूछा जाता सूचना देने वाले की गोपनीयता के संबंध में पुलिस अधीक्षक बलरामपुर द्वारा दी गई बाइट

मित्रों और अधिक जाने हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

ट्विटर को फॉलो करे

रिपोर्टर== अनिल शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here