पहले बीमारी के लिए लोग लेते थे कर्ज, अब हर साल 5 लाख का निःशुल्क इलाज: चेतन चौहान -मुख्यमंत्री आरोग्य मेले से विशेष संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान का शुभारम्भ

0
8

पहले बीमारी के लिए लोग लेते थे कर्ज, अब हर साल 5 लाख का निःशुल्क इलाज: चेतन चौहान
-मुख्यमंत्री आरोग्य मेले से विशेष संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान का शुभारम्भ


-प्रभारी मंत्री ने कराया दो बच्चियों का अन्नप्राशन, खाये पोषाहार से बने व्यंजन
बलरामपुर 01 मार्च। मुख्यमंत्री जन आरोग्य मेले से प्रभारी मंत्री ने विशेष संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान का शुभारम्भ किया।

मेले के दौरान स्वास्थ्य व बाल विकास विभाग के स्टाल भी लगाये गये। एक माह तक चलने वाले इस अभियान में आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर घर जाकर लोगों के घर दस्तक देकर उनको बीमारी और बचाव के बारे में जागरूक करेंगीं जिससे दिमागी बुखार सहित अन्य बुखार बचाव कर हर परिवार सुरक्षित हो सके।


प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र हरिहरगंज में रविवार को आयोजित मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में जिले के प्रभारी मंत्री चेतन चौहान ने फीता काटने के बाद दीप प्रज्जवलित कर एक माह तक चलने वाले विशेष संचारी रोग नियंत्रण एवं दस्तक अभियान का शुभारम्भ किया।

प्रभारी मंत्री चेतन चौहान ने बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग व स्वास्थ विभाग द्वारा स्टाल के माध्यम से दी जाने वाली सेवाओं का निरीक्षण भी किया। निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री चेतन चौहान, सदर विधायक पल्टूराम, तुलसीपुर विधायक कैलाशनाथ शुक्ला ने रेसपी काउंटर पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के द्वारा पोषाहार से बनाए गये विभिन्न व्यंजनों को खाकर उसकी तारीफ की और कुपोषित बच्चों, गर्भवती व धात्री महिलाओं को पोषाहार का उपयोग कर विभिन्न व्यंजन बनाकर खाने की अपील की। प्रभारी मंत्री ने अपने खून की जांच भी कराई।

इस दौरान प्रभारी मंत्री ने नरायनपुर गांव के दो बच्चियों वैष्णवी व चांदनी का अन्नप्राशन भी कराया। इसके अलावा उन्होने आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड, टीकाकरण, एनसीडी स्क्रीनिंग, फाइलेरिया की दवा, परिवार कल्याण परिवार नियोजन, पोषण काउंटर सहित सभी स्टालों पर जाकर दी जा रही सेवाओं की जानकारी ली।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रभारी मंत्री चेतन चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा नई पहल की गई। कामकाजी लोगों को उनके घर के पास बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। सीएम द्वारा चलाई गई ये योजना सफल हो रही है।

आम आदमी और गरीब व्यक्ति का ख्याल मुख्यमंत्री ने रखा है। उन्होने कहा की तीन साल पहले जब सरकार बनी तब जापानी इंसेफ्लाइटिस से लोग मर रहे थे। हजारों की संख्या में लोग बीमार हो रहे थे लेकिन अब पिछले एक साल से जेई से एक भी मौतें नहीं हुई है।

अति पिछड़े इन आठ जिलों में सरकार कुपोषित बच्चों और गर्भवती महिलाओं सहित तमाम मुद्दों पर ध्यान दे रही है जिससे इन जिलों को भी सामान्य जिलों में परिवर्तित किया जा सके। पहले लोग बीमारी के लिए कर्ज लेते थे लेकिन अब सरकार से आयुष्मान भारत योजना के तहत हर साल पांच लाख का निःशुल्क इलाज ले रहे हैं।

सदर विधायक पल्टूराम ने कहा कि जो आर्थिक रूप से कमजोर परिवार धन के अभाव में दवा इलाज नहीं करा पा रहे थे उन परिवारों के लिए मुख्यमंत्री आरोग्य मेला वरदान साबित हुआ है।

तुलसीपुर विधायक कैलाशनाथ शुक्ला ने कहा कि छुट्टी के दिन भी मुख्यमंत्री से लेकर स्वास्थ्य कर्मी तक सब काम कर रहे हैं इसीलिए जरा सी भी बीमारी हो तो मेले में आकर जांच जरूर कराएं। कार्यक्रम के दौरान डीएम कृष्णा करूणेश, सीडीओ अमनदीप डुली, सीएमओ डा. घनश्याम सिंह, बीजेपी जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह, डीडीओ जी.के. पाठक, एसीएमओ डा. ए.के. सिंद्यल, डा. बी.पी. सिंह, डा. अरूण कुमार, डा. ए.के. पाण्डेय, डीएमओ मंजुला आनंद, डा. जावेद खान, अरविंद मिश्रा, जिला मीडिया प्रभारी डीपी सिंह बैस, रामकरण मिश्रा,आद्या सिंह पिंकी, रवि कुमार मिश्रा, वरुण सिंह मोनू ,बंदना पासवान, झूमा सिंह, मंजू तिवारी, बृजेंद्र तिवारी, राकेश गुप्ता, अरविंद तिवारी सुनील चौहान, प्रमोद ओझा, शिव प्रताप सिंह, ऋषि राज मिश्रा ,अटल तिवारी आदि मौजूद रहे।

मित्रों और अधिक जाने हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें
ट्विटर को फॉलो करे

 

तहसील कोऑर्डिनेटर अनिल शर्मा

भारत 🇳🇪ब्यूरो ✍मीडिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here