बाहर से आने वाले लोगों पर जिला प्रशासन व ग्राम पंचायत के जिम्मेदार लोग रख रहे हैं नजर

0
12

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण 21 दिन का लॉक डाउन शुरू होने के पश्चात जनपद में बहुत बड़ी संख्या में लोग अन्य राज्यों एवं जनपदों से अपने घर लौटे हैं। इसकी पूरी संभावना है कि बाहर से आए हुए यह लोग कोरोना संक्रमण से ग्रसित हो।

इसी वजह से प्रशासन द्वारा इनको 14 दिन घर में ही एकांतवास करने का निर्देश दिया गया है, किंतु ऐसा पाया गया है कि होम क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों घर से बाहर निकल रहे हैं और इधर उधर जाकर लोगों से मिल रहे हैं जिसकी वजह से कोरोना वायरस से संक्रमण का खतरा बढ़ गया है।

होम क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों को नियमित और प्रभावी निगरानी हेतु जनपदीय पुलिस द्वारा क्वॉरेंटाइन मॉनिटर्स की व्यवस्था की जा रही है, जिसके प्रमुख बिंदु निम्नवत है :-

1-प्रत्येक थाने में हर चौकी और हल्के के लिए 1-1 क्वारन्टीन मानीटर टीम का गठन किया गया है ।

2-क्वारन्टीन मॉनीटर प्रातः 9:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक अपने चौकी हल्का क्षेत्र में घूम कर हर क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों की मॉनिटरी करेंगे।

3-होम क्वॉरेंटाइन किए लोगों को विशेष निर्देश दिया गया है कि वह 14 दिन तक अपने परिवार के लोगों से दूरी बनाकर रखें, साफ-सफाई का ध्यान रखें तथा यदि बुखार खांसी या सांस लेने में दिक्कत होती है तो तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाएं।

4- टीम, होम क्वॉरेंटाइन किए गए व्यक्ति के परिवार वालों ,पड़ोसियों, ग्राम प्रधान /सभासद आदि को बुलाकर सख्त हिदायत देगी कि होम क्वॉरेंटाइन किए गए व्यक्ति अपने घर से बाहर ना निकले ।

5-सभी क्वारन्टीन मॉनिटर जिस भी व्यक्ति के घर जाएंगे उस व्यक्ति की सेल्फी/लोकेशन लेकर थाना स्तर पर बने व्हाट्सएप ग्रुप में पोस्ट करेंगे।

8- जनपद स्तर पर बनी बीट कंट्रोल टीम में तैनात पुलिसकर्मी लगातार थाने के क्वारन्टीन मॉनिटर से संपर्क कर उनकी निगरानी करेंगे ।

9- क्वारन्टीन मॉनिटर्स सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखेंगे।

मित्रों और अधिक जाने हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें
ट्विटर को फॉलो करे

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here