यूपी केकन्नौज से  बड़ी खबर तहसीलदार बोले- आवास में घुसकर सांसद ने मुझे थप्पड़ जड़े, समर्थकों ने गिराकर पीटा

0
11

यूपी केकन्नौज से  बड़ी खबर तहसीलदार बोले- आवास में घुसकर सांसद ने मुझे थप्पड़ जड़े, समर्थकों ने गिराकर पीटा -Big news from Kannauj in UP, Tehsildar said – MP entered into his house and slapped me, supporters beat him down –


कोरोना वायरस को लेकर घोषित लॉकडाउन के बीच कुछ लोगों ने सरकारी आवास में घुसकर तहसीलदार पर हमला कर दिया। लाठी-डंडों से पीटकर उन्हें जख्मी कर दिया। तहसीलदार ने सांसद पर समर्थकों के साथ मिलकर मारपीट करने का आरोप लगाया है। सूचना पर पुलिस अफसरों और डीएम ने आवास पर पहुंचकर हाल लिया और हमलावरों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।मंगलवार की दाेपहर सदर तहसीलदार अरविंद कुमार अपने आवास पर थे। इस बीच 10-15 हमलावर उनके आवास में घुस आए। इससे पहले कुछ समझ पाते हमलावरों ने उन्हें लाठी-डंडों से उन्हें पीटना शुरू कर दिया। तहसीलदार जान बचाकर भागे तो हमलावरों ने सदर तहसील कार्यालय तक दौड़ा दौड़ा कर पीटा।इसके बाद हमलावर फरार हो गए। घटना की जानकारी मिलते ही डीएम राकेश कुमार मिश्रा और एसपी अमरेन्द्र प्रसाद मौके पर पहुंचे। तहसीलदार ने अफसरों काे चोंट दिखाते हुए पूरी जानकारी दी। अफसरों ने प्रकरण की जांच कराने की बात कही है। वहीं इस बारे में एसडीएम का कहना है कि घटना की जानकारी तहसीलदार ने दी है। उन्हाेंने 20-25 लोगों द्वारा आवास में घुसकर पीटने की जानकारी दी है, कौन लोग थे उन्हें तो तहसीलदार ही पहचान सकते हैं। वहीं दूसरी ओर सांसद का कहना है कि सभी आरोप बेबुनियाद हैं। उनके कुछ लोग तहसीलदार से मिलने गए थे, जहां आवास में तहसीलदार ने उन लोगों पर हमला कर घायल कर दिया।तहसीलदार अरविंद कुमार का कहना है कि माननीय सांसद जी का फोन आया था, उन्होंने कहा कि एक सूची भेजी थी उसमें राशन वितरण नहीं हुआ है। मैंने कहा वो सूची नायब साहब को दी थी, वो सभी लोगों चिह्नित कराकर राशन उपलब्ध करा रहे हैं। इसपर सांसद जी ने कहा किसी भी व्यक्ति को नहीं दिया गया है तो मैंने कहा नायब साहब सूची से वितरित किए हैं, जो बचेंगे उन्हें भी वितरित करा दिया जाएगा, अभी मैं जानकारी करके दस मिनट में बता रहा हूं। इतना कहने पर सांसद जी गाली गलौज करने लगे और बोले तहसील में कहां बैठे हो अभी मैं आ रहा हूं।इसके बाद मैंने डीएम और एडीएम साहब को सांसद जी द्वारा फोन पर की गई अभद्रता करने और तहसील में आकर मारने की धमकी दिए जाने की जानकारी दी। एसडीएम ने साहब ने मुझे कार्यालय से हट जाने को कहा तो मैं आवास पर चला आया। इसके बाद आवास में गेट तोड़ते हुए करीब 30-35 लोगों के साथ सांसद जी दरवाजा पीटने लगे।मेरी पत्नी व बच्ची अंदर रोने लगीं तो मैं भी डर गया कि कहीं अंदर न घुसकर बदत्मीजी करें। इसपर मैं दरवाजा खोलकर बाहर आ गया तो बाहर सांसद जी मेरी कुर्सी पर बैठे थे। सांसद जी ने कहा मेरी सूची से वितरण क्यों नहीं किया तो मैंने कहा करा रहा हूं, इसपर मेरा मोबाइल छीनकर सांसद जी मुझे थप्पड़ से पीटने लगे और समर्थकों ने मुझे गिरा गिराकर पीटा।

मित्रों और अधिक जाने हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें
ट्विटर को फॉलो करे

अविनाश श्रीवास्तव संपादक प्रबंधक भारत ब्यूरो मीडिया /सफल समाचार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here