नगर निगम शुरू करेगा ‘टोको अभियान’, महापौर की अपील – ‘बिना मास्क पहने कोई दिखे, तोMunicipal corporation will start ‘Toko campaign’, appeal of Mayor – ‘If you see someone without wearing a mask

0
19

 

नगर निगम शुरू करेगा ‘टोको अभियान’, महापौर की अपील – ‘बिना मास्क पहने कोई दिखे, तो Municipal corporation will start ‘Toko campaign’, appeal of Mayor – ‘If you see someone without wearing a mask,

लखनऊ में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया ने मोर्चा सम्हला है। उनके द्वारा गठित कोरोना संक्रमण निगरानी एवं समन्वय की ऑनलाइन बैठक महापौर की अध्यक्षता में आहूत की गयी। जिसमे महापौर संयुक्ता भाटिया, नगर आयुक्त अजय द्विवेदी, डीसीएमओ मिलिंद, संयोजक रजनीश गुप्ता सहित नगर निगम के अपर नगर आयुक्त, समिति के सदस्यगण, जोनल अधिकारी और नगर अभियंता उपस्थित रहे।

बैठक में लखनऊ में प्रतिदिन बढ़ते कोरोना संक्रमण पर चिंता व्यक्त की गयी, साथ ही प्रभारी नियंत्रण हेतु आवश्यक कदम उठाने पर चर्चा हुई।

कोई मास्क न पहनें तो उसे जरूर टोके: महापौर
बैठक में महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि अक्सर बहुतायत संख्या में लोग बाजारों में और घरों के बाहर बिना मास्क लगाए दिख जाते है, यही हाल कई स्ट्रीट वेंडर्स का भी है, जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, इसलिए नगर निगम की ओर से ‘टोको अभियान’ चलाया जाएगा। जिसमे यदि लखनऊ की सड़कों पर कोई बिना मास्क पहने दिखाई दे तो मास्क न पहनने पर जनता, पार्षद और सफाई कर्मी जरूर टोके, उसको बताए कि उसके मास्क न पहनने से कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है, और वह अन्य लोगों को भी कोरोना संक्रमण दे सकता है। सफाई कर्मचारियों सहित जनता के टोकने से उसमें डर पैदा होगा और वह अगली बार मास्क पहन कर ही घर से निकलेगा यही टोको अभियान गंदगी और जगह जगह थूकने वालो के विरुद्ध भी चलाया जाए। महापौर ने कहा अक्सर दुकानों में भी खासकर स्ट्रीट-वेंडर्स बिना मास्क के सामने बेचते दिख जाते है, साथ ही कई ग्राहक भी बिना मास्क के समान खरीदते हुए दिखते है, मेरी अपील है कि उनको मास्क पहनने के लिए टोके और मास्क पहनाने के उपरांत ही समान खरीदे और बेंचे।

बैठक में तय हुए अन्य बिन्दु

– नगर निगम अस्पतालो को कोविड वार्ड में उपयोग हेतु स्वास्थ्य विभाग और लखनऊ प्रशासन वार्ता कर प्रस्ताव देने हेतु महापौर ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया ।

– समस्त जोनों अथवा वार्डों में पुनः कोरोना जांच हेतु अभियान चलाया जाएगा।

– सीएचसी/पीएचसी प्रभारी डॉक्टरो के संपर्क में रहेंगे कोरोना समन्वय समिति के सदस्य, जनता को तत्काल उपलब्ध कराएंगे सहायता।

– होम आइसोलेशन मरीजों की देखभाल एवं उनको गाइडेंस हेतु स्थानीय पार्षद को भी दी जाएगी जानकारी।

– कोविड पॉजिटिव मरीज मिलने पर स्थानीय सभासद के साथ मिलकर अनिवार्य रूप से की जाएगी बैरिकेडिंग ।

– महापौर के निर्देश पर पहले प्रत्येक वार्ड में एक सेनेटाइजेशन कि मशीन उपलब्ध कराई गई थी, पार्षदों में बताया कि उनमें से कुछ खराब हो गयी है। महापौर ने उन्हें तत्काल नई मशीन खरीदने एवं खराब मशीनों को ठीक कराने के लिए निर्देशित किया।

– सफाई कर्मचारियों की सुरक्षा कोड देखते हुए महापौर ने समस्त कर्मचारियों को पुनः मास्क, ग्लब्स और कैप उपलब्ध कराने के लिए निर्देशित किया।

– कोरोना पॉजिटिव मरीजों के घर सेनेटाइजेशन करने जा रहे कर्मचारियों को पीपीई किट उपलब्ध कराई जायेगी।

– सेनेटाइजेशन के लिए बड़ी मशीनें और प्रत्येक जोन में ई- रिक्शा पर मशीनें खरीदी जायेंगे।

– जनता और प्रशासन में समन्वय बनाने,होम आइसोलेटेड एवं संक्रमित मरीजों को सुविधाये उपलब्ध कराने हेतु कोरोना निगरानी एवं समन्वय समिति के सदस्य प्रशासन से समन्वय स्थापित कर आवशयक कार्य कराएंगे।

संचारी एवं डेंगू से बचाव हेतु निम्न निर्णय लिए गए

-प्रत्येक वार्डों में नाली- सड़क की सफाई में तेजी लाई जाएगी।

– चुना एवं दवाई छिड़काव जोनल अधिकारियों के नेतृत्व में समय पर्यंत सुनिश्चित किया जाएगा।

– संचारी रोगों के रोकथाम हेतु जागरूकता बढ़ाई जाएगी।

– कूड़ा उठान में लगे आर०आर० विभाग में खराब पड़े रोबोट जल्द ही ठीक कराने हेतु महापौर ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया।

– कूड़ा उठान एवं सफाई व्यवस्था हेतु प्रत्येक वार्ड में आवश्यक सामग्री एवं संसाधन की सूची बना अतिशीघ्र क्रय किया जाएगा।

– नगर आयुक्त ने बताया कि शासन से शीघ्र ही बड़ी गाड़ी प्राप्त हो जाएगी।

– कार्यदायी संस्थाओं के कर्मचारियों को आई-कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा, जिससे कार्यदायी संस्थाओं के कर्मचारियों में हो रहे फर्जीवाडा भी रुकेगा।

– सफाई एवं सेनेटाइजेशन के लिए आ रही जनता की शिकायतों को त्वरित निस्तारण हेतु व्यवस्था बनाई जाएगी।

ज्ञात हो कि लखनऊ में बढ़ते कोरोना संक्रमण और संचारी रोगों के रोकथाम एवं जनता- जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों में समन्वय हेतु ‘कोरोना निगरानी एवं समन्वय समिति’ महापौर द्वारा जोनवार बनाई गई थी। ताकि इस बढ़ते संक्रमण काल मे जनता तक नगर निगम द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सेवाए सीधे प्रभावी रूप से पहुचाई जा सके।

बैठक में महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि कोरोना काल मे नगर निगम परिवार द्वारा किये गए कार्यों से जनता का भरोसा नगर निगम पर कायम हुआ है। हमे इसी प्रकार जनता और शासन का सहयोगी बनकर आगे भी कार्य करना है। जनता से प्राप्त शिकायते और सुझाव जनहित में लागू करा सके। लखनऊ प्रशासन और स्वास्थ्य महकमा अपनी जी जान से लगा हुआ है, परंतु केसेज बढ़ रहे है, इससे पता चलता है जनता में और जागरूकता आवश्यक है। प्रायः यह शिकायते आती रहती है कि बाजारों एवं अन्य स्थानों पर लोग बिना मास्क पहने रहते है। और सोशल डिस्टनसिंग का अनुपालन नही करते है। इसके साथ ही डेंगू एवं संचारी रोगों का भी समय प्रारम्भ हो गया है। प्रशासन और सबसे रुट लेवल पर कार्य करने वाले हमारे पार्षद भी लगातार कार्य कर रहे है। जनता कों कोरोना से बचाव हेतु वर्तमान समय की आवश्यकताओ को लागू करने का प्रयास जनप्रतिनिधि और प्रशासन दोनों मिलकर आपसी सहयोग से करेंगे।

हर सप्ताह रविवार को होगी कोरोना निगरानी समिति की बैठक, अगली बैठक में प्रशासन से अन्य अधिकारी भी रहेंगे उपस्थित।

अधिक जाने हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर

हमारे फेसबुक को फॉलो करें

टि्वटर पेज को फॉलो करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here